अगर आपकी बहुत इच्छा है और आपका साथी मना कर देता है तो……

अगर आपकी बहुत इच्छा है और आपका साथी मना कर देता है तो……

विवाह जैसे रिश्ते की शुरुआत से पहले एक युवक-युवती को एक दूसरे से अपने पिछले सेक्सुअल लाइफ के बारे में बताना चाहिए या नहीं, जानिए इस आर्टिकल में।

एक कपल शादी के साथ अपने जीवन की एक नई यात्रा शुरू करता है और किसी भी अन्य रिश्ते की तरह, जीवन के इस नए चरण को एक साफ स्लेट के साथ शुरू करना एक अच्छा विचार है। अतीत की कोई भी बात, जो आपको लगता है कि भविष्य में परेशानी पैदा कर सकता है, इस यात्रा की शुरुआत से पहले शेयर किया जाना एक अच्छा विचार है। यह हमें सेक्सुअल हिस्ट्री के महत्वपूर्ण विषय पर भी लाता है – क्या किसी व्यक्ति को अपने साथी को अपने पिछले सेक्स संबंधों के बारे में बताना चाहिए? या, बस इसे अतीत के गर्भ में ही दफन रहने देना चाहिए। यह एक पर्सनल चॉइस है। हालांकि, कई लोग मानते हैं कि शादी से पहले अपने साथी को अपने पिछले सेक्सुअल लाइफ के बारे में बताना एक अच्छा विचार है। जानिए क्यों :

क्या आप इसे हमेशा के लिए छुपा पाएंगे?
अपनी सेक्सुअल हिस्ट्री की अवहेलना करके शादी के बाद अपने जीवनसाथी के साथ एक नए रिश्ते की शुरुआत करना आसान हो सकता है। नव-विवाहित जीवन के उत्साह और रोमांस के साथ आप शुरुआती महीनों में खुश रहेंगे। लेकिन क्या आप इसे हमेशा के लिए कर पाएंगे? जब आप एक ही छत के नीचे रह रहे होंगे और शायद हर विषय पर चर्चा भी करेंगे, तो यह विषय भी निश्चित रूप से सामने आएगा। झूठ बोलने या इसे हमेशा के लिए गुप्त रखने का निर्णय लेने के बजाय, अपने पिछले एक्सपीरियंस को शेयर करने से यह विषय केवल एक बार और सभी के लिए समाप्त हो जाएगा और आपको हल्का महसूस होगा।

प्रत्येक व्यक्ति का एक अतीत होता है
सबसे पहले, हम सभी को यह समझने की जरूरत है कि शादी करने से पहले सभी का एक अतीत (सेक्सुअल एक्सपीरियंस या भावनात्मक जुड़ाव) होता है। किसी व्यक्ति को डेट करने और उसके साथ रिश्ते में रहने में कुछ भी गलत नहीं है। एक वयस्क के रूप में, सभी को इस चुनाव का अधिकार प्राप्त है। इसके अलावा, अगर कोई आपको आपके पिछले रिश्तों के आधार पर आंकता है, तो इसमें आपकी कोई गलती नहीं है। क्योंकि बहुत कुछ इस बात पर निर्भर करता है कि कोई व्यक्ति आपके स्वीकारोक्ति पर अपनी प्रतिक्रिया किस प्रकार देता है, जो आपको उस व्यक्ति को बेहतर ढंग से समझने में मदद

सेक्स कम्पेटिबिलिटी भी एक चीज है!
सेक्स और पिछले संबंधों के बारे में बात करने से आप दोनों को एक-दूसरे की सेक्सुअल पसंद और नापसंद को समझने में मदद मिलेगी। सच कहा जाए तो शादी के बाद सेक्स जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता है और इसमें बंधन बनाने या तोड़ने की क्षमता भी होती है। तो फिर, शादी के बाद अपने पार्टनर को अपने अतीत के बारे में बताने में क्या हर्ज है।

यह आपसी विश्वास को बनाने में मदद करता है
अपने साथी के साथ अपने पर्सनल लाइफ का एक अंश साझा करने की आपकी इच्छा आपके सीधे और ईमानदार स्वभाव का प्रतीक है। आप अपने अतीत को पीछे छोड़ने और आगे के जीवन को अपनाने के लिए तैयार हैं। इन चीजों के बारे में खुला और स्पष्ट होना आपके रिश्ते में विश्वास की नींव रखता है और एक समझदार पार्टनर निश्चित रूप से इस बात के लिए आपकी सराहना करेगा।

आपका पार्टनर की प्रतिक्रिया कैसी होती है
यदि आप अपने होनेवाले लाइफ पार्टनर के साथ अपने पिछले सेक्सुअल लाइफ की बात शेयर करते हैं और सामने वाले के चेहरे पर असुरक्षा या अस्वीकृति का कोई भी संकेत नहीं दिखता है, तो निश्चित रहें कि आपको एक उदार दृष्टिकोण वाला साथी मिल गया है। यह दर्शाता है कि आपका होने वाला जीवनसाथी आपके अतीत का सम्मान करता है और आपको उस रूप में अपनाने को तैयार हैं, जो आप हैं।

अगर आपका पार्टनर अजीब व्यवहार करता है
और अब हम कहानी के दूसरे पहलू पर आते हैं। यदि आपका साथी आपको जज करता है या अजीब व्यवहार करना शुरू कर देता है,तो वह आपके अतीत के साथ सहज नहीं है, फिर आप इस रिश्ते से एक कदम पीछे हटने पर विचार कर सकते हैं।क्योंकि जीवन के प्रति सभी के अलग-अलग दृष्टिकोण होते हैं और इस तथ्य को स्वीकार करना बेहतर होगा कि अनुकूलता भविष्य में एक मुद्दा हो सकता है।

 

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.