‘अंगूरी भाभी’ के बिकिनी अवतार पर मचा बवाल, एक्ट्रेस बोलीं-‘मैं तो ऑनस्‍क्रीन भी पहन सकती हूं’

‘अंगूरी भाभी’ के बिकिनी अवतार पर मचा बवाल, एक्ट्रेस बोलीं-‘मैं तो ऑनस्‍क्रीन भी पहन सकती हूं’

सुपरहिट टीवी सीरियल ‘भाबी जी घर पर हैं’ (Bhabiji Ghar Par Hain) की अंगूरी भाभी यानी एक्‍ट्रेस शुभांगी अत्रे अपने रोल की वजह से सु्र्खियों में आती हैं. उनका चुलबुला अंदाज लोगों को खूब पसंद आता है. लेकिन हमेशा साड़ी में नजर आने वाली शुभांगी अत्रे बिकिनी में भी कहर ढा चुकी हैं. इनकी ये फोटोज सोशल मीडिया पर कहर ढाती हैं. शुभांगी ने कुछ समय पहले अपनी कुछ फोटो शेयर की थीं, जिसमें वह ब्‍लैक और पिंक स्ट्रिप वाली बिकिनी में नजर आ रही थीं. टीवी पर बेहद देसी अंदाज में नजर आने वाली अंगूरी भाभी का यह बोल्‍ड अंदाज जहां कई लोगों को काफी पसंद आया तो वहीं कई यूजर्स ने उन्‍हें इस बोल्‍ड अंदाज के लिए ट्रोल कर दिया था. लेकिन अंगूरी भाभी इस ट्रोलिंग पर चुप्‍पी साध कर नहीं बैठीं और उन्‍होंने ऐसे ट्रोलर्स को करारा जवाब भी दिया था.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Shubhangi Atre (@shubhangiaofficial)

बिकिनी को लेकर शुभांगी का बयान

एक इंटरव्यू में शुभांगी ने अपने बिकिनी अवतार में कहा था कि बीच पर आप मुझसे क्‍या पहनने की उम्‍मीद करते हैं? यह जाहिर है कि मैं वहां साड़ी या सलवार कमीज तो पहन नहीं सकती. मैं खुद में फिट महसूस करती हूं और स्‍विमसूट पहन सकती हूं. मुझे अपनी फोटो पोस्‍ट करने का कोई पछतावा नहीं है. मुझे यह पसंद आई और मैंने इसे पोस्‍ट किया. मेरे पति ने यह फोटो खींचा था. यहां तक की अगर ऑन स्‍क्रीन भी किरदार की जरूरत के हिसाब से बिकिनी पहननी पड़ी तो मुझे इसमें कोई परहेज नहीं है.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Shubhangi Atre (@shubhangiaofficial)

ट्रोलर्स को सुनाई खरी खोटी

शुभांगी ने आगे कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि मैं भद्दी या अश्‍लील दिख रही हूं. लोग मुझसे हर समय अंगूरी भाभी के ही कपड़ों में रहने की उम्‍मीद करते हैं. अक्‍सर मुझे वेस्‍टर्न कपड़ों में देखकर वह चौंक जाते हैं. लोगों को यह समझना चाहिए कि मैं जो किरदार पर्दे पर निभाती हूं, उससे अलग हूं. शायद यही कारण है कि अक्‍सर महिलाएं वह पहनने से डरती हूं, जो वह पहनना चाहती हैं. मुझे नहीं लगता कि महिलाओं को उनके कपड़ों के आधार पर जज किया जाना चाहिए. शर्म और सभ्‍यता आंखों में होती है.’

Rutvisha patel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *